Trending

Earthquake in Delhi: दिल्ली में आ सकता है बड़ा भूकंप? हाईकोर्ट ने तैयारी पर सरकार से मांगी रिपोर्ट

नई दिल्ली।
राजधानी दिल्ली ( Delhi NCR ) में संभावित बड़े भूकंप को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट ( Delhi High Court )भी चिंतित है। मंगलवार को दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार और निगम को निर्देश दिए हैं कि जल्द से जल्द शपथ पत्र दायर करें कि संभावित भूकंप से निपटने की क्या तैयारी है और उस योजना को कैसे लागू किया जाएगा। बता दें कि राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाकों में पिछले दो महीनों से 14 बार भूकंप के झटके महसूस हुए है। बार-बार आ रहे भूकंप के झटकों से लोगों में दहशत का माहौल बना हुआ है। सोमवार को ही दिल्ली में 2.1 तीव्रता का भूकंप आया था। वहीं, नेशनल सेंटर ऑफ सिस्मोलॉजी के पूर्व हेड एके शुक्ला ने चेतावनी दी है कि इन छोटे-छोटे झटकों से हमें सतर्क रहने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि राजधानी दिल्ली भूकंप संभावित जमीन पर स्थित हैं। यहां हिमालय बेल्ट से भी इसे काफी खतरा है। इसके चलते यहां 8 तीव्रता वाला भूकंप भी ( Earthquake Warning in Delhi NCR ) आ सकता है।

IMD Alert: निसर्ग के बाद अब नया चक्रवाती तूफान मचा सकता है तबाही! भारी बारिश का अलर्ट

सरकार से मांगा गया जवाब
जस्टिस विपिन सांघी और जस्टिस रजनीश भटनागर की बैंच ने दिल्ली सरकार, नगर निगम, छावनी बोर्ड, डीडीए और नई दिल्ली नगरपालिका परिषद से भूकंप की तैयारियों को लेकर जवाब मांगा है। कोर्ट ने सरकार से कहा है कि एक सप्ताह के भीतर हलफनामा दायर किया जाए।

https://twitter.com/ANI/status/1270254677171400704

आ सकता है 8 तीव्रता का भूकंप
विशेषज्ञों के मुताबिक, दिल्ली-एनसीआर में एक्टिव फॉल्ट के कारण 6.5 से 8 की तीव्रता का भूकंप आ सकता है। नेशनल सेंटर ऑफ सिस्मोलॉजी के पूर्व हेड डॉ. एके शुक्ला ने बताया हिमालय बेल्ट से दिल्ली एनसीआर को काफी खतरा है। ऐसे में 8 तीव्रता वाला भूकंप भी आ सकता है। एक्सपर्ट के मुताबिक दिल्ली भूकंप की जोन 4 में आता है, जहां मुरादाबाद, पानीपत और सोहना फॉल्ट लाइनें मौजूद हैं। इन फॉल्ट में 6.5 तीव्रता का भूकंप लाने की क्षमता है।

Earthquake: भूकंप के झटकों से आज फिर हिली धरती, कोरोना संकट के बीच बार-बार आ रहे भूकंप

60 दिन में लगे 14 बार झटके
बता दें कि पिछले 60 दिनों में दिल्ली-एनसीआर में 14 बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। अब तक आए भूकंपों में से 29 मई को सबसे अधिक 4.5 तीव्रता का भूकंप दर्ज हुआ था। वहीं, बार-बार आ रहे भूकंप से विशेषज्ञ भी चिंतित है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top