World

VIDEO: टैंक से लीक हुआ 20 हजार लीटर डीजल, खून जैसी लाल हुई नदी, इमरजेंसी लागू

मॉस्‍को।
रूस ( Russia ) से एक बड़े संकट की खबर सामने आई है। यहां साइबेरिया ( Siberia ) के एक पावर प्लांट ( Power Plant ) के स्टोरेज से बुधवार को करीब 20 हजार टन डीजल ( 20000 Tonnes Oil Leak ) लीक हो गया। यह घटना नॉरीलस्‍क ( Norilsk ) के करीब हुई है, वहां एक नदी है जिसे अंबरनया नदी ( Ambarnaya River ) कहते हैं, उसमें डीजल घुलने लगा। देखते ही देखते नदी सफेद से खून जैसी लाल नजर आने लगी। सैटेलाइट तस्वीरों में आप भी देख सकते हैं, किस तरह नदी में डीजल लीक हुआ है। नदी की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। बताया जा रहा है कि ध्रुवीय गर्मी की वजह से मिट्टी ढीली हो गई थी और इस वजह से डीजल के टैंक को खासा नुकसान हो गया।

दुनिया के लिए बड़ा खतरा!
यह घटना पूरी दुनिया पर प्रभाव डाल सकती है। वैज्ञानिकों का कहना है कि अंबरनया नदी आर्कटिक क्षेत्र में पड़ती है। इसमें 20,000 लीटर डीजल बह गया। ऐसे में अब हालात और बिगड़ सकते हैं। डीजल के नदी में लीक होने से इसके आसपास के इलाकों पर खासा असर होगा। साथी दुनिया पर भी इसका असर देखा जा सकेगा। कहा जा रहा है कि डीजल 29 मई से लीक हो रहा था।

कंपनी ने दी सफाई
नॉरीलस्‍क निकिल कंपनी ने कहा कि पिछले 30 सालों से बिना किसी समस्‍या के प्रयोग किया जा रहा था, मगर अचानक यह फट गया और डीजल फ्यूल टैंक को नुकसान हो गया। इसकी वजह से फ्यूल लीक होने लगा।

https://twitter.com/Hominis_simplex/status/1268245266601213953

अलर्ट जारी
रिपोर्ट के मुताबिक, हालात को नियंत्रण में करने की कोशिशें जारी है। स्‍थानीय नागरिकों को अलर्ट रहने के लिए कहा गया है। बताया जा रहा है कि डीजल मिला नदी का पानी प्‍यासिनो झील की तरफ बढ़ रहा है और यह झील प्‍यासिना नदी में मिलती है। प्‍यासिना नदी की एक धारा कारा सागर की तरफ मुड़ जाती है। कारा समंदर आर्कटिक महासागर का हिस्‍सा है।

इमरजेंसी लागू
राष्‍ट्रपति ब्‍लादीमिर पुतिन इस घटना के बाद आपातकाल की घोषणा कर दी है। वैज्ञानिकों ने कहा है कि इस रिसाव से 350 वर्ग मील से ज्यादा एरिया प्रभावित है। जिसकी सफाई करना अब बहुत मुश्किल काम है। नदी को साफ करने का काम युद्ध स्तर पर जारी है, लेकिन इसमें बहुत ज्यादा समय लग सकता है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top